Constipation home remedies

Constipation remedy: Sesame seeds


The oily composition of sesame seeds works to moisturize the intestines, which can help if dry stools are a problem. Add the seeds to cereals or salads for crunch, or pulverize them in a coffee grinder and sprinkle on food like a seasoning. This home remedy for constipation is a favourite of Amish and Chinese folk healers.


Constipation remedy: Molasses

One tablespoon of blackstrap molasses before bed should help ease your constipation by morning. Blackstrap molasses is boiled and concentrated three times, so it has significant vitamins and minerals; magnesium in particular will help relieve your constipated condition and contribute to your good health.


Constipation remedy: Fibre

Fibre acts like a pipe cleaner, scrubbing food and waste particles from your digestive tract and soaking up water. It adds bulk to your stool, giving the muscles of your GI tract something to grab on to, so they can keep food moving along. Aim for 20 to 35 grams of fibre a day to stay regular. Foods particularly high in fibre include bran cereals, beans, lentils, oatmeal, almonds, barley, many vegetables, and fresh and dried fruits. If you’re constipated, ease this condition by taking in additional fibre, be sure to drink more water than usual to keep your stool soft and easy to pass.


Constipation remedy: Mint or ginger tea

Mint and ginger are both proven home remedies to help alleviate a slew of digestive problems. Peppermint contains menthol, which has an antispasmodic effect that relaxes the muscles of the digestive tract. Ginger is a “warming” herb that causes the inside of the body to generate more heat; herbalists say this can help speed up sluggish digestion. In tea, the hot water will also stimulate digestion and help relieve constipation. Dandelion tea is also a gentle laxative and detoxifier.



Constipation remedy: Healthy fats

Olive oil, nuts, and avocados all contain healthy fats, which can help lubricate your intestines and ease constipation. A salad with fibre-rich leafy greens and a simple olive oil dressing, a small handful of nuts, or a tablespoon of natural nut butter on fruit or toast are good options. Even if you’re watching your weight, healthy fats are necessary for basic body functions; they are very satiating to keep you satisfied with less.


Constipation remedy: Lemon water

The citric acid in lemon juice acts as a stimulant to your digestive system and can help flush toxins from your body. Squeeze fresh lemon juice into a glass of water every morning, or add lemon to tea; you may find that the refreshingly tart water not only acts as a natural remedy to your constipation but also that it helps you drink more water each day, which will improve your long-term digestion.


Constipation remedy: Raisins

High in fibre, raisins also contain tartaric acid, which has a laxative effect. In one study, doctors determined that panelists who ate 4 1/2 ounces of raisins (one small box) per day had their digested food make it through the digestive track in half the time it took other subjects who did not. Cherries and apricots are also rich in fibre and can help kick your constipation. Eat these fruits with a bowl of yogurt for the added benefits of gut-soothing probiotics.


Constipation remedy: Prunes

These fibre-rich fruits are a go-to home remedy for getting your digestion back on track. Three prunes have 3 grams of fibre, and they also contain a compound that triggers the intestinal contraction that makes you want to go. Another great dried fruit choice is figs, which may not cause as much bloating as prunes.


Constipation remedy: Castor oil

This home remedy for constipation has been handed down for generations. One of the primary uses for castor oil is as a laxative; take 1 to 2 teaspoons on an empty stomach and you should see results in about 8 hours. Why? A component in the oil breaks down into a substance that stimulates your large and small intestines.


Constipation Causes


Abuse of laxatives. Laxatives are sometimes used inappropriately, for example, by people suffering from anorexia nervosa or bulimia. But for people with long-term constipation, the extended use of laxatives may be a reasonable solution. In the past, long-term use of some laxatives was thought to damage nerve cells in the colon and interfere with the colon's innate ability to contract. However, newer formulations of laxatives have made this outcome rare


Changes in life or routine. Traveling can give some people problems because it disrupts normal diet and daily routines. Aging often affects regularity by reducing intestinal activity and muscle tone. Pregnancy may cause women to become constipated because of hormonal changes or because the enlarged uterus pushes on the intestine.






Ignoring the urge. If you have to go, go. If you hold in a bowel movement, for whatever reason, you may be inviting a bout of constipation. People who repeatedly ignore the urge to move their bowels may eventually stop feeling the urge.


Not enough fiber and fluids in the diet. A diet too low in fiber and fluids and too high in fats can con-tribute to constipation. Fiber absorbs water and causes stools to be larger, softer, and easier to pass. Increasing fiber intake helps cure constipation in many people, but those with more severe constipation sometimes find that increasing fiber makes their constipation worse and leads to gassiness and discomfort.


Other causes. Diseases that can cause constipa-tion include neurological disorders, such as Parkinson's disease, spinal cord injury, stroke, or multiple sclerosis; metabolic and endocrine disorders, such as hypothyroidism, diabetes, or chronic kidney disease; bowel cancer; and diverticulitis. A number of systemic conditions, like scleroderma, can also cause constipation. In addition, intestinal obstructions, caused by scar tissue (adhesions) from past surgery or strictures of the colon or rectum, can compress, squeeze, or narrow the intestine and rectum, causing constipation.


Constipation top 10 ayurvedic medicine



1. Pet Saffa Natural Laxative Granules : Pet Saffa, Natural Laxative Granules is very effective in relieving from gastro-intestinal discomforts constipation, forms regular bowels, helps in stool formation & promote increased stool pass along with reduced flatulence & bloating.Pet Saffa,Natural Laxative Granules is very effective in relieving from gastro-intestinal discomforts constipation,forms regular bowels,helps in stool formation & promote increased stool pass along with reduced flatulence & bloating.


2. Dindayal Kabzino Powder :  Relief From Chronic Or Laborious Constipation, Mild Laxative. Dindayal Aushadhi Kabzino (Isabgol Husk) 100 gm/Each pack Churna Powder Relief From Chronic Or Laborious Constipation 100 gm Each Pack Digestive disorders /Chronic constipation, Loss of Appetite, indigestiion, acidity Uses 1 to 2 Teaspoon as per requirement at bed Time with Water or as as advised by physician.


3. Himalaya Herbolax Capsules:  The natural ingredients in Herbolax soften the stool and enhance intestinal motility, which relieve acute and chronic constipation effectively. Due to its laxative property, the drug assists excretion without upsetting the fluid-electrolyte balance (mineral and water balance) in the body. Herbolax is non-habit forming and does not result in physiological dependence.For effective preradiographic bowel preparation,Herbolax in conjunction with Himalayas Gasex,eliminates gas shadows, ensures better radiological interpretation and avoids repeated exposures.


4. Nitya Shri Churna : Useful in Chronic Constipation,Flatulence Acidity,Vowel,Evacuation,Painful piles and burning sensation in head,feet and chest.


5. Himalaya Herbolax Tablets:  The natural ingredients in Herbolax soften the stool and enhance intestinal motility, which relieve acute and chronic constipation effectively. Due to its laxative property, the drug assists excretion without upsetting the fluid-electrolyte balance (mineral and water balance) in the body. Herbolax is non-habit forming and does not result in physiological dependence.


Constipation in hindi


अनियमित दिनचर्या और खान-पान के कारण कब्ज की समस्या होना आम बात है। भोजन के बाद बैठे रहने और रात के खाने के बाद सीधे सो जाने जैसी आदतें कब्ज के लिए जिम्मेदार होती हैं। अगर आपको भी होती है यह समस्या, तो हम बता रहे हैं, इससे निपटने के घरेलू उपाय - 


पेट का तंदरुस्त होना बहुत जरूरी होता है. यह शरीर का बेहद अहम हिस्सा है. अगर आपका पेट ठीक है तो आप दर्जनों बीमारियों से बच सकते हैं. लेकिन, अक्सर लोगों को कब्ज की समस्या रहती है. इस समस्या की वजह से किसी काम में मन नहीं लगता है और कई अन्य बीमारियों को भी यह न्यौता देता है. खानपान और लाइफस्टाइल ऐसी हो गई है कि कब्ज की समस्या आम हो गई है. ऐसे में कुछ घरेलू नुख्से को अपनाने से कब्ज की समस्या को आसानी से दूर किया जा सकता है.

 

कब्ज से तुरंत राहत पाने के ये हैं घरेलू इलाज

कब्ज का उपचार : पेट का तंदुरूस्त होना बहुत जरूरी है। यह शरीर का बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है अगर पेट में किसी तरह की कोई गड़बड़ी हो तो यह और भी बहुत सी बीमारियों को न्यौता देता है। बहुत से लोग अक्सर पेट साफ न होने यानि कब्ज की शिकायत करते हैं। इसका कारण पाचन क्रिया में गड़बड़ी के अलावा खान-पान का सही न होना है। कई बार हमारा गलत लाइफस्टाइल भी पेट पर बुरा असर पड़ता है। ज्यादा समय तक लगातार कब्ज की बीमारी से पीडित रहने पर त्वचा पर भी इसका असर दिखाई देने लगता है। इसेे चेहरे का कुदरती निखार खोना शुरू हो जाता है। इसके अलावा भूख न लगना,पेट की गैस,बेचैनी आदि की वजह भी पेट ही है। कब्ज मिटाने के सरल उपचार आपके लिए फायदेमंद हो सकते हैं। 


सुबह उठने के बाद पानी में नींबू का रस और काला नमक मिलाकर पिएं। इससे पेट अच्छी तरह साफ होगा, और कब्ज की समस्या नहीं होगी।

 

कब्ज के लिए शहद बहुत फायदेमंद है। रात को सोने से पहले एक चम्मच शहद को एक गिलास पानी के साथ मिलाकर पिएं। इसके नियमित सेवन से कब्ज की समस्या दूर हो जाती है। 

 

सुबह उठकर प्रतिदिन खाली पेट, 4 से 5 काजू, उतने ही मुनक्का के साथ मिलाकर खाने से भी, कब्ज की शिकायत समाप्त हो जाती है। इसके अलावा रात को सोने से पहले 6 से 7 मुनक्का खाने से भी कब्ज ठीक हो जाता है।

 

प्रतिदिन रात में हरड़ के चूर्ण या त्रिफला को कुनकुने पानी के साथ पिएं। इससे कब्ज दूर हेगा, साथ ही पेट में गैस बनने की समस्या से भी निजात मिलेगी।


सुबह खाली पेट एक कप गर्म पानी में आधा नींबू निचोड़ कर इसमें एक छोटा चम्मच आरंडी यानि कैस्टर ऑयल डाल कर पी लें। इसे पीने के 15-20 मिनट बाद पेट साफ हो जाएगा। इसके अलावा रात को सोने से पहले 1 गिलास गर्म दूध में 2-4 बूंद कैस्टर ऑयल की डालकर पीएं। इससे सुबह पेट आसानी से साफ हो जाएगा। 


शहद

रात को एक कप दूध में एक चम्मच शुद्ध शहद डालकर पीएं। रोजाना इसका सेवन करने से प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होगी और पेट भी तंदुरूस्त रहेगा। 


काला नमक

सुबह खाली पेट आधे नींबू के रस में काला नमक मिलाकर गुनगुने पानी के साथ सेवन कर लें। इससे पेट से जुड़ी समस्याएं दूर हो जाएगी। 


त्रिफला

रात को एक लिटर पानी में 20 ग्राम त्रिफला भिगोकर रखें। सुबह इस पानी को छानकर पी लें, ऐसा करने से कुछ ही दिनों में पुरानी कब्ज से भी छुटकारा मिल जाएगा। 


पपीता 

पपीता में विटामिन डी भरपूर मात्रा में होता है। खाने में टेस्टी होने के साथ-साथ यह पेट के लिए भी बहुत लाभकारी है। रोजाना दिन में एक बार पके हुए पपीते का सेवन करें। पका हुआ अमरूद खाने से भी कब्ज से राहत मिलती है। 


अंजीर

सूखी अंजीर को रात के समय पानी में भिगोकर रखा दें और सुबह इसे चबाकर खाएं। इसके साथ दूध भी पी सकते हैं। 5-6 दिन इसका सेवन करने से कब्ज दूर हो जाएगी। 


पालक की सब्जी या इसके जूस की अपनी डाइट में शामिल करें। इससे कब्ज से छुटकारा मिलेगा और सेहत भी अच्छी रहेगी। 


कब्ज की समस्या दूर करने के लिए गर्म पानी में नींबू और कैस्टर ऑयल मिलाकर इस्तेमाल किया जा सकता है. सुबह-सुबह गुनगुना पानी में नींबू मिलाकर पीने से यह समस्या धीरे-धीरे दूर हो जाएगी. रात में सोने से पहले गर्म दूध में कैस्टर ऑयल मिलाकर पीने से सुबह पेट आसानी से साफ हो जाएगा.


रात में सोने से पहले दूध में एक चम्मच शहद मिलाकर पीने से प्रतिरोधक क्षमता मजबूती होगी और पेट भी तंदरुस्त होगा.


गर्म पानी में नींबू रस और काला नमक मिलाकर पीने से पेट से जुड़ी समस्याएं दूर हो जाएंगी.


त्रिफला को पानी में फुलाकर उस पानी का सेवन करने से पेट की समस्या दूर होती है. यह कब्ज के लिए रामबाण कहा जाता है.


पपीते का सेवन करने से पेट की समस्या नहीं होगी. इसमें विटामिन डी की बहुत अधिक मात्रा होती है. इसलिए, रोजाना पका पपीता और अमरूद का सेवन करें


अंजीर को पानी में फुलाकर खाएं. इसे दूध के साथ भी पी सकते हैं. कुछ दिनों तक इसका इस्तेमाल करने से कब्ज की समस्या दूर हो जाएगी.


अपनी डाइट में पालक को शामिल करें. पालक का साग और जूस भी पी सकते हैं. इससे कब्ज की समस्या दूर होगी और सेहत भी अच्छी रहेगी.


कब्ज की समस्या के प्रमुख कारण


1. पानी कम पीने से कब्ज की समस्या शुरू हो जाती है.

2. ज्यादा तेल-मसाले का सेवन करने से भी कब्ज और पेट से जुड़ी अन्य समस्याएं शुरू हो जाती हैं.

3. लगातार एक ही जगह पर बैठे रहने से कब्ज की समस्या शुरू हो जाती है. ऑफिस में बैठकर लगातार काम करने वालों के लिए आम समस्या है.

4. वजन कम करने के लिए जरूरत से कम खाना खाने से भी कब्ज की समस्या शुरू हो जाती है. इसलिए, संतुलित मात्रा में खाना जरूरी है.

5. पेन किलर का ज्यादा इस्तेमाल करने पेट के  लिए ठीक नहीं है. इसलिए, पेन किलर के इस्तेमाल से बचना चाहिए.




Related Products


Out Of Stock
Kabzino TabletsProduct Type: TabletsDescription: Corrects Chronic Constipation GentlyIndications/Us...
SKU:
#5-p30001403
Vendor:
Vendor 3
Type:
Type 3
Availability:
In-Stock
₹75.00
Baidyanath Kabja Har Granules:Baidyanath Kabja Har Granules to relieve habitual & occasional constip...
SKU:
#5-p000800
Vendor:
Vendor 3
Type:
Type 3
Availability:
In-Stock
₹65.00

Leave a comment


Please login to leave a comment
Safe Payment

Pay with the world's most popular and secure payment methods.

All INDIA Delivery

We ship to over 26000+ Pin Codes in INDIA.

24/7 Help Center

Round-the-clock assistance for a smooth shopping experience.

Daily Promotion

Get best deals every day. Check out Todays Deal